Breaking News in Hindi
Header Banner
ब्रेकिंग
आशीर्वाद ट्रेडर्स इलेक्ट्रिकल एवं इलेक्ट्रॉनिक्स से इस तप्ती गर्मी में अभी घर लाए कूलर ! 6 गौवंशो की मृत्यु के संबंध में राष्ट्रीय गौ रक्षक सेना आक्रोशित ! रमेश सिंह, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि की तरफ सभी ग्रामवासियों को बकरीद की मुबारकबाद ! सहायक शोध अधिकारी बनी जहां आरा क्षेत्र का बढ़ाया सम्मान ! महाराजगंज का समाज कल्याण अधिकारी शंकर लाल नौकरी से बर्खास्त ! SSP NAINITAL ने कहा बाबा जी के दरबार में आये भक्तों की सेवा करना उनको सुविधा प्रदान करना हमारी ड्यूट... कैंची मेले की सुरक्षा की दृष्टिगत नैनीताल पुलिस अलर्ट, वाहन चैकिंग जारी ! अमन और चैन के साथ मनाएं ईद-उल-अजहा का त्यौहार के नमाज़ के देश में अमन और शांति के लिए मांगें दुआएं :... परिषदीय विद्यालयों में ग्रीष्मकालीन अवकाश बढ़ाये जाने हेतु बेसिक शिक्षा निदेशक का आदेश हुआ जारी ! पुलिस व SSB ने स्मैक के साथ एक युवक को किया गिरफ्तार !

गोरखपुर में 36 % लेखपालों की कमी ! 879 की जगह 563 लेखपाल तैनात !

0 170

उत्तर प्रदेश : गोरखपुर
09 जुलाई 2022 : सरकार की योजनाओं, जमीन विवाद, राजस्व आदि जैसे कई कार्यों में लेखपालों की सीधी भूमिका होती है । लेकिन वर्तमान में गोरखपुर समेत प्रदेश के तमाम जिलों में लेखपालों की कमी है । हर जिले में लेखपाल के पद रिक्त हैं । इसका असर यह हो रहा है कि जमीनी विवादों के निस्तारण में देरी हो रही है । तमाम सरकारी योजनाओं का लाभ आम आदमी को मिलने में देरी हो रही है । जमीनों की पैमाइश का काम भी लटका पड़ा है । कई जगहों पर लेखपालों के उपर दोहरी जिम्मेदारी है । गोरखपुर में 36 प्रतिशत लेखपालों की कमी है ।
सरकारी डाटे के अनुसार गोरखपुर जिले में ही 36 % लेखपालों की कमी है । गोरखपुर में लेखपालों के 879 पद हैं । लेकिन यहां तैनाती सिर्फ 563 लेखपालों की ही है । यानि लेखपालों के 316 पद रिक्त हैं । 64.05 % लेखपाल ही तैनात हैं ।
लेखपालों की कमी से कई जमीन विवाद, ​लटके हैं या फिर विवादों के निस्तारण में लंबा समय लगता है । वहीं आय, जाति, निवास, योजनाओं के लाभार्थियों की जांच सहित अन्य कामों में भी देरी होती है । इस संबंध में डीएम कृष्णा करूणेश से बात करने के लिए दो बार फोन किया गया लेकिन फोन उनके पीआरओ ने उठाया और बात नहीं हो सकी ।
लेखपाल जाति आय निवास सहित शासन द्वारा चलाई जा रही महत्वपूर्ण योजनाओं परियोजनाओं के निस्तारण करने में अपनी अहम भूमिका निभाता है लेखपाल द्वारा सभी सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों की जांच करना, जिससे यह तय होता है कि लाभार्थी पात्र है या अपात्र ।
आय, जाति और निवास प्रमाण पत्र बनने में लेखपाल जांच कर रिपोर्ट लगाता है आईजीआरएस, थाना दिवस, तहसील दिवस सहित अन्य दफ्तरों में आने वाले जमीन विवाद से संबंधित मामलों में रिपोर्ट लगाना और जांच कर आख्या देना ।जमीनों की पैमाइश, नक्शे के नकल देने का काम करना।राजस्व संबंधी सभी काम में लेखपाल की भूमिका महत्वपूर्ण होती है ।
गोरखपुर में आईजीआरएस, थाना दिवस, तहसील दिवस समेत तमाम दफ्तरों में रोज 100 से ज्यादा मामले जमीन विवाद के आते हैं। वहीं इसके अलावा आय, जाति, निवास के भी सैकड़ों आवेदन आते हैं । ऐसे में लेखपालों की कमी की वजह से इनके निस्तारण में देरी होती है या फिर ये मामले लटके रहते हैं। सदर तहसील में स्वीकृत 195 की जगह 144 लेखपाल कार्य कर रहे हैं 51 पद रिक्त पड़े हुये है सहजनवा तहसील में 88 पद स्वीकृत हैं 63 लेखपाल कार्य कर रहे हैं 25 लेखपालों की रिक्त जगह है खजनी तहसील में 158 स्वीकृत पदों में 84 लेखपाल कार्यरत हैं 74 लेखपालों की रिक्त जगह है बांसगांव तहसील में 118 स्वीकृत पद हैं 68 लेखपाल कार्य कर रहे हैं 50 रिक्त स्थान है गोला तहसील में 151 स्वीकृत पद है 92 लेखपाल कार्य कर रहे हैं 59 लेखपालों की जगह खाली है चौरीचौरा तहसील में 83 लेखपाल की स्वीकृत पद है 61 लेखपाल कार्यरत हैं 22 रिक्त जगह है खजनी तहसील में 86 लेखपालों की जगह स्वीकृत है 51 लेखपाल कार्यरत है 35 की जगह खाली है । गोरखपुर जनपद में 879 लेखपालों की स्वीकृत हैं लेकिन 563 लेखपाल ही विभिन्न तहसीलों में अपने अपने दायित्वों का निर्वहन करते हुई सेवा दे रहे हैं 316 लेखपालों की जगह रिक्त पड़ी हुई है अगर इन 316 लेखपालों की जगह को भर दिया जाए तो लेखपालों की कमी महसूस नहीं की जाएगी और फरियादियों की समस्याओं का निस्तारण त्वरित गति से निस्तारण हो सकेगा और शासन द्वारा चलाई जा रही महत्वपूर्ण योजनाओ का लाभ पात्र लाभार्थियों के पास समय – समय पर पहुंचता रहेगा लेखपालों की कमी से शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं को समय से निस्तारण करने में भी प्रशासन को दिक्कतों का सामना उठाना पड़ता है और शासन द्वारा चलाई जा रही महत्वकांक्षी योजना का लाभ पात्र लाभार्थियों तक समय से नहीं पहुंच पाता है और आम जनमानस को इधर – उधर भटकना पड़ रहा ।
जिला क्राइम ब्यूरो चीफ गोरखपुर बाबूलाल सक्सेना की रिपोर्ट

Leave A Reply

Your email address will not be published.

आदिपुरुष फिल्म पर प्रतिबंध लगाया जाए – भुवनेश आधुनिक     |     रेलवे आरक्षण सुविधा बाधित होने से यात्रियों को उठानी पड़ेगी परेशानी !     |     फर्जी SDM बनकर मिलता था अधिकारियों से ! हुआ गिरफ्तार !     |     चाइनीज मांझा बना जी का जंजाल, गर्दन कटने से युवक की हालत नाजुक !     |     मोमबत्ती से घर में लगी आग, मासूम बच्ची की हुई जलकर मौत !     |     अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के बुल्डोजर ने 15 बीघा जमींन को खाली कराया !     |     दिल्ली में बिपरजॉय का असर, आज फिर बादल बरसने से गिरेगा तापमान ! यूपी को भी राहत !     |     अखिलेश यादव ने उठाए प्रदेश कानून व्यवस्था पर सवाल !     |     बिपरजॉय करेगा चारधाम यात्रा को प्रभावित, यात्रियों को उठानी पड़ सकती है परेशानी !     |     9 वर्ष पूर्ण होने पर आयोजित विशाल जनसभा कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया !     |     आशीर्वाद ट्रेडर्स इलेक्ट्रिकल एवं इलेक्ट्रॉनिक्स से इस तप्ती गर्मी में अभी घर लाए कूलर !     |     6 गौवंशो की मृत्यु के संबंध में राष्ट्रीय गौ रक्षक सेना आक्रोशित !     |     रमेश सिंह, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि की तरफ सभी ग्रामवासियों को बकरीद की मुबारकबाद !     |     सहायक शोध अधिकारी बनी जहां आरा क्षेत्र का बढ़ाया सम्मान !     |     महाराजगंज का समाज कल्याण अधिकारी शंकर लाल नौकरी से बर्खास्त !     |     SSP NAINITAL ने कहा बाबा जी के दरबार में आये भक्तों की सेवा करना उनको सुविधा प्रदान करना हमारी ड्यूटी एवं कर्तव्य !     |     कैंची मेले की सुरक्षा की दृष्टिगत नैनीताल पुलिस अलर्ट, वाहन चैकिंग जारी !     |     अमन और चैन के साथ मनाएं ईद-उल-अजहा का त्यौहार के नमाज़ के देश में अमन और शांति के लिए मांगें दुआएं :- युनुस खान     |     परिषदीय विद्यालयों में ग्रीष्मकालीन अवकाश बढ़ाये जाने हेतु बेसिक शिक्षा निदेशक का आदेश हुआ जारी !     |     पुलिस व SSB ने स्मैक के साथ एक युवक को किया गिरफ्तार !     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9410378878